कैसे बढ़ाये अपने सोचने (ideas) और कल्पना (imagination)करने की क्षमता ।

🙏नमस्कार।।
ज़िन्दगी में किसी भी चीज़ की शुरुआत हमारे सोचने के साथ शुरू हो जाती है। हर चीज़ मनुष्य के सोचने और कल्पना पर निर्भर करती है। हम अपनी आँखों से भी इतना ही देख पाते है जितना हमारा दिमाग सोच पाता है।इसलिए ज़िन्दगी में सफल होने के लिए हर इंसान की सोचने और कल्पना करने की क्षमता बड़ी होनी चाहिए। बड़ी सोच और कल्पनाओ से ही बड़े बड़े काम किये जाते है। हर इंसान के सोचने और समझने की क्षमता अलग अलग होती है। लेकिन कुछ उपाय है जिनके द्वारा हम अपने सोचने और कल्पना करने की क्षमता बढ़ा सकते है।
आज मैं आपको उन्ही कुछ टिप्स के बारे में बता रहा हूँ।
✍1.एक माहौल की बजाय अलग अलग माहौल में कम करने की कोशिश करे:-
                                 अगर कोई इंसान एक ही माहौल में काम करता है तो वह केवल उसी माहौल के बारे में चीज़ों को करने की क्षमता रखता है। अगर हम अलग अलग माहौल में कम करेंगे तो हमें हर माहौल से कुछ नया सिखने को मिलेगा। और हमारा दिमाग भी अलग अलग विचार लाएगा। और हमें बहुत कुछ नए आईडिया मिलेंगे। अलग अलग माहौल में काम करने से सोचने और काम करने क्षमता बढ़ती है । आप उस इंसान से ज्यादा सोच पाते है जो की एक ही माहौल में काम करता है।

✍ 2.अलग अलग किस्म के लोगो से बाते करें और अपने विचार साझा करे:-
                        अलग अलग किस्म के लोगों से बाते करने और अपने विचार साझा करने से पता चलता है कि वह इंसान इस कार्य के बारे में क्या विचार रखता है ,वह कोई अलग सोचता है या अपने जैसे ही सोचता है। इससे नए आइडियाज मिलते है। और हमारे सोचने की क्षमता भी बढाती है। अलग अलग लोगों से अलग अलग बाते सिखने को मिलती है। जो हम अलग अलग जगह पर काम में ले सकते है।

✍ 3.दिमाग में जब भी कोई नया विचार आये ,उसे लिख ले:-
 यही भी एक बहुत अहम् बात है। क्योकि हमारे दिमाग में दिनभर नए नए विचार आते रहते है और चले जाते है। इनमे से कुछ विचार हमारे लिए बहुत उपयोगी हो सकते है। इसलिए हमें उन विचारो को उसी टाइम लिख लेना चाहिए।
वो विचार हमें बहुत कुछ सिखा सकता है। उस की तरह फिर हमारे दिमाग में और भी आईडिया आने शुरू हो जाते है।
तो हमें अपने अच्छे विचारों को नोट कर लेना चाहिए।
✍ 4.एक रूटीन सेट करे और उस पर कायम रहे:-
अगर एक रूटीन सेट कर लेते है तो हमें बेकार की चीज़ों में समय बर्बाद करने की जरुरत  नहीं पड़ती है। हम उस टाइम को अच्छे कार्य करने और कोई नया अनुभव लेने में लगा सकते है। इससे हमारा दिमाग भी लगेगा और हमारे सोचने की क्षमता भी बढ़ेगी।

✍ 5.योग मेडिटेशन और एक्सरसाइज करे:-
      योग ,मैडिटेशन करने से हमारा दिमाग शांत होता है। हमें पता है की शांत दिमाग में ही नए विचार और आईडिया आते है। यही वजह है की हमें सोते हुए बहुत सपने और नए विचार आते है। हम तभी बहुत अच्छा सोच पाते है जब हमारा दिमाग शांत होता है। इसलिए अच्छे विचार और नयी कल्पनाओ के लिए डेली योग,मैडिटेशन और एक्सरसाइज करे।
5 comments
0 likes
Prev post: ☑ 5 आदतें (habits)जो हर किसी को दीवाना बना दे।Next post: डरपोक दुनिया :-सच्चाई को प्रदर्शित करती एक हिंदी कहानी।

Related posts

Comments

  • Ram Singh Yadav

    January 16, 2018 at 1:43 pm
    Reply

    Thanks bhi aap ko Jo aap eatni achi bat

  • vipin vishwakrma

    March 12, 2017 at 12:30 pm
    Reply

    aap jo chahe pa sakte hain basarte apne vichar ke sache me dhslne ka tarika jante ho.aisa koi sapna nahi hain jo sakar n ho […] Read Moreaap jo chahe pa sakte hain basarte apne vichar ke sache me dhslne ka tarika jante ho.aisa koi sapna nahi hain jo sakar n ho sake..apke pas jo hain ushke prayog me hi saphalta ki kunji hai. Read Less

  • vipin vishwakrma

    March 12, 2017 at 12:26 pm
    Reply

    saphalta bahar se nahi.andar se ati hain.

  • vipin vishwakrma

    March 12, 2017 at 12:25 pm
    Reply

    insan wahi banta hai jo wo sochata hai

  • vipin vishwakrma

    March 12, 2017 at 12:23 pm
    Reply

    thanks

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About Me

Hi Friends, My Name Is Rohit Maan And I'm Owner Of This Website. If You Have Any Queries or Any Questions About Tech, Plz Follow Me And Ask Me Your Questions At Social Media Below. Read More About Me

Latest Posts
Categories
Most Popular