Corona Virus क्या है और इससे कैसे बचें

6

Corona Virus दुनियाभर में अपने कदम पसार चुका है और सभी देशों में यह काफी तेजी से फैल रहा है। अभी कोरोना वायरस को उत्पन्न हुए कुछ ही महीने हुए हैं और इसने पूरी दुनियां को अपनी गिरफ्त में ले लिया है। हर देश और हर राज्य में इसके मरीज व सन्दिग्ध हर रोज मिल रहे हैं और लगातार इनकी संख्या में बढ़ोतरी होती ही जा रही है।

Corana Virus सबसे पहले चीन में फैला था और अब यह भारत में भी आ चुका है। चिंता की बात तो ये है कि WHO (World Health Organization) या विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसको एक महामारी घोषित कर दिया है, जिसका इलाज अभी तक खोज नहीं जा सका है व लगातार इससे मरने वालों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। यही वजह है कि आमजन में इसको लेकर डर का माहौल है और लोग अपने घरों से बाहर निकलने से डर रहे हैं।

भारत सरकार कोरोना से बचाव व इसके इलाज के लिए काफी ज्यादा सचेत हो और लगातार कड़े कदम उठा रही है लेकिन फिर भी अकेले सरकार के कदम उठाने से ही Corona से लड़ना सम्भव नहीं है। इसके लिए हमें भी आगे आना होगा और सरकार की इससे लड़ाई ओर बचाव के लिए सहयोग करना होगा और सचेत रहना होगा। और ऐसा करने के लिए हमें COVID-19 (Corona Virus) के बारे में अच्छे से जानने की जरूरत है कि ये Corona Virus है क्या,  कोरोना वायरस क्यों इतना खतरनाक है और इससे बचने के लिए क्या क्या उपाय हो सकते हैं।

corona virus COVID-19

इसीलिए आज ये पोस्ट हम खाश कोरोना वायरस के बारे में लेकर आये हैं और इस पोस्ट के माध्यम से आज हम आपको Corona Virus के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं कि कोरोना वायरस क्या है और इस वायरस से बचने के क्या क्या उपाय हो सकते हैं या Corona से कैसे बचा जा सकता है। हमें उम्मीद है कि ये पोस्ट पढ़ने के बाद आपको कोरोना वायरस के बारे में अच्छे से जानने व इससे बचने में मदद मिलेगी।

तो चलिए दोस्तों, शुरू करते हैं और जानते हैं कि Corona Virus क्या है और इससे बचने के लिए क्या क्या उपाय किये जा सकता हैं –

Corona Virus क्या है और इससे कैसे बचें (Full Guide About COVID-19 In Hindi)

Corona Virus Kya hai

Corona Virus क्या है –

Wikipedia Se – कोरोनावायरस (Coronavirus) कई वायरस (विषाणु) प्रकारों का एक समूह है जो स्तनधारियों और पक्षियों में रोग के कारक होते हैं। यह RNA Virus होते हैं। मानवों में यह श्वसन तंत्र संक्रमण के कारण होते हैं, जो अधिकांश रूप से मध्यम गहनता के लेकिन कभी-कभी जानलेवा होते हैं। गाय और सुअर में यह अतिसार और मुर्गियों में यह ऊपरी श्वास तंत्र के रोग के कारण बनते हैं। इनकी रोकथाम के लिए कोई टिक या वायररोधी (antiviral) अभी उपलब्ध नहीं है और उपचार के लिए प्राणी की अपने प्रतिरक्षा प्रणाली पर निर्भर करता है और रोगलक्षणों (जैसे कि निर्जलीकरण या डीहाइड्रेशन, ज्वर, आदि) का उपचार किया जाता है ताकि संक्रमण से लड़ते हुए शरीर की शक्ति बनी रहे।

Corona Virus (सीओवी) का संबंध Virus के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी Problem हो सकती है। इस Virus को पहले कभी नहीं देखा गया है।

लैटिन भाषा में “कोरोना” का अर्थ “मुकुट” होता है और इस वायरस के कणों के इर्द-गिर्द उभरे हुए कांटे जैसे ढाँचों से इलेक्ट्रॉन सूक्ष्मदर्शी में मुकुट जैसा आकार दिखता है, जिस पर इसका नाम रखा गया था। W.H.O. ने इस वायरस को COVID-19 नाम दिया है।

यह वायरस भी जानवरों से आया है। ज्यादातर लोग जो चीन शहर के केंद्र में स्थित हुआनन सीफ़ूड होलसेल मार्केट में खरीदारी के लिए आते हैं या फिर अक्सर काम करने वाले लोग जो जीवित या नए मारे गए जानवरों को बेचते थे जो इस वायरस से संक्रमित थे।

कैसे फैला Corona Virus

जैसा कि आप जानते होंगे कि Coronavirus एक संक्रमित वायरस या बीमारी है जो संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क या छूने से एक दूसरे में फैसला है। लेकिन, इसका जन्म या इसकी शुरुआत कहाँ से हुई?

Corona virus की शुरुआत सबसे पहले चीन के हुवान शहर से हुई थी। कोरोना का पहला मरीज 17 नवम्बर 2019 को सामने आया था। इसका खुलासा सबसे पहले चीन के डॉक्टर ली वेनलियांग ने की थी और उनकी भी यह खुलासा करने के बाद एक रहस्यमयी तरीके से मौत हो गई थी।

Coronavirus के जन्म या उतपत्ति को लेकर लोगों द्वारा अलग अलग तर्क दिए जा रहे हैं। कोई इसके फैलने की वजह हुवान शहर में चमगादड़ का सूप पीने से बताता है तो कोई इसको चीन के जैविक हथियार बनाने के एक नाकाम कोशिश का एक नतीजा बता रहे हैं। फिलहाल इसके फैलने से सम्बंधित कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है कि आपकी Corona Virus कैसे फैला था। वहीं डब्ल्यूएचओ (WHO) ने तेजी से फैल रहे इस वायरस को सी-फूड से जुड़ा है।

Corona Virus के कहाँ, कितने मामले (Latest Updates)

दुनियाभर में कोरोना का कहर है। लगभग सभी देश इस वायरस की मार को झेल रहे हैं और हर दिन इसके मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

कोरोना वायरस की वजह से सबसे ज्यादा बुरे हालात चीन और इटली के हैं। चीन में अभी तक 80,967 मामले सामने आ चुके हैं और 3248 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं इटली में इसके 41,035 मामले सामने आए हैं और 3405 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बाद तीसरे स्थान पर स्पेन आता है, जहाँ कोरोना के 20,412 मामले सामने आए हैं और 1041 लोगों की मौत हो चुकी है।

दुनियाभर में कोरोना के आंकड़ों का एक विवरण –

  • कुल मामले – 258, 839
  • कुल मौतें – 10,544
  • सही हुए मरीज – 89, 922
  • एक्टिव केस – 158,373 (7636 लोग गम्भीर)

भारत में कोरोना को लेकर अभी तक स्थिति काफी नियंत्रण में है। भारत में कोरोना का 3तीसरा सप्ताह शुरू हो गया है और अभी तक 244 मामले ही सामने आए हैं और सिर्फ 5 लोगों की ही इससे मौत हुई है। इसके अलावा 23 लोग सही होकर वापिस घर पहुँच चुके हैं और कोई भी मामला ज्यादा सीरियस या क्रिटिकल नहीं है।

Corona virus india report

Note – ऊपर बताई सारी रिपोर्ट https://www.worldometers.info से ली गयी है। अगर आप भी corona के कुल मरीज ओर इसके ताजा आंकड़ों पर नजर रखना चाहते हैं तो इस लिंक पर click करें – https://www.worldometers.info/coronavirus/

कोरोना वायरस से क्या खतरा है

Corona को WHO से एक महामारी घोषित कर दिया है। सबसे बड़ा खतरा तो यही है कि यह बहुत तेजी से फैल रहा है और इसका इलाज अभी तक मिला नहीं है। सरकार इसको लेकर काफी ज्यादा एहतियात बरत रही है और जहाँ कहीं भी इसके संदिग्ध मिल रहे हैं, वहाँ धारा 144 या Lockdown जैसे फैसले ले रही हैं, ताकि यह अन्य लोगों में ज्यादा ना फैल सके।

ऐसे में आने वाले कुछ महीने हमारे लिए काफी चुनौतीपूर्ण होने वाले हैं और भारत में यह ओर ज्यादा फैलने वाला है जो काफी बड़ा खतरा है। भारत में अभी तक 244 से ज्यादा कोरोना वायरस पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं और 5 लोगों को इससे मौत भी हो चुकी है। अभ्हि तक corona को भारत में आये लगभग 2 सप्ताह भी नहीं हुए हैं और हालत काफी खराब है। मतलब अगर ऐसा ही रह तो आने वाले 2-3 सप्ताह काफी चुनौतीपूर्ण ओर खतरनाक साबित होने वाले हैं, लेकिन सरकार इससे बचने के लिए हर सम्भव कोशिस कर रही है और लोगों को जागरूक कर रही है।

कैसे फैलता है कोरोना वायरस

जैसा कि हमने आपको पहले बताया था कि कोरोना वायरस COVID-19 एक संक्रामक बीमारी या वायरस है ओर कोई भी संक्रामक रोग एक इंसान से दूसरा इंसान में संक्रमण के कई तरीकों या वजहों से फैल सकता है।

कोरोना सबसे ज्यादा हवा से फैलता है। यह बीमारी नाक या मुंह से छोटी बूंदों के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकती है जब सीओवीआईडी -19 पीडि़त खांसी या साँस छोड़ता है। ये बूंदें व्यक्ति के आसपास की वस्तुओं और सतहों पर उतरती हैं। अन्य लोग तब इन वस्तुओं या सतहों को छूकर, फिर अपनी आँखों, नाक या मुँह को छूकर कोरोना वायरस को पकड़ लेते हैं। लोग कोरोना वायरस को भी पकड़ सकते हैं यदि वे कोरोना वायरस वाले व्यक्ति से बूंदों में सांस लेते हैं जो खांसी करते हैं या बूंदों को बाहर निकालते हैं। यही कारण है कि बीमार रहने वाले व्यक्ति से 1 मीटर (3 फीट) से अधिक रहना महत्वपूर्ण है।

इसके अलावा इसके फैलने के ओर भी बहुत से अन्य कारण हो सकते हैं, जैसे –
  • कोरोना संक्रमित व्यक्ति के साथ हाथ मिलाने या ज्यादा सम्पर्क में रहने से।
  • संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छींकने से यह वायरस फैलता है।
  • कोरोना के मरीज को छूने या उसकी किसी सामग्री को इस्तेमाल करने से, इत्यादि प्रमुख हैं।

Corona बीमारी के प्रमुख लक्षण क्या हैं

कोरोना वायरस के शुरुआती स्टेज में इसका अंदाज़ा लगा पाना थोड़ा मुश्किल होता है। इसके शुरुआती लक्षण किसी सामान्य सर्दी-जुकाम जैसे ही होते हैं। लेकिन इसके अलावा कुछ मुख्य लक्षण होते है, जिनके दिखाई देने पर आपको सचेत हो जाना चाहिए और तुरंत डॉक्टर से चेकउप करवाना चाहिए, वो लक्षण ये हैं –

  1. नाक बहना
  2. गले में कफ
  3. मांसपेशियों में दर्द होना
  4. तेज बुखार होना
  5. सांस लेने में दिक्कत होना
  6. निमोनिया होना

इत्यादि कोरोना वायरस के मुख्य लक्षण हैं। अगर आपको या आपके किसी भी परिचित में ऐसे कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं तो आप डॉक्टर से सम्पर्क करें।

जनता कर्फ्यू

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले ओर इसकी गम्भीरता को देखते हुए देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने रविवार 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील की है। पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की है कि 22 मार्च को लोग सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू का पालन करें।

क्या होता है जनता कर्फ्यू – जनता कर्फ्यू एक ऐसा कर्फ्यू होता है जो जनता द्वारा जनता के लिए लगाया गया हो। इससे लोग अपने आप को अपनी मर्जी से अपने आप को एक निश्चित समय तक घर में बंद रखते हैं और किसी भी तरह से बाहर जाने से बचते हैं। भारत में 22 मार्च को सुबह 7 से साम 9 बजे तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के आदेश पर देश के लोग जनता कर्फ्यू का पालन करेंगे।

जनता कर्फ्यू का क्या महत्व है – पीएम मोदी की ये पहल (जनता कर्फ्यू) दो मायनों में बेहद अहम मानी जा रही है।

  • पहला यह कि बाहर फैले कोविड-19 (COVID-19) के वायरस कमजोर हो जाएं। सोशल मीडिया पर इस तरह के संदेश वायरल भी हो रहे हैं कि 12 घंटे में वायरस खत्म हो जाता है, ऐसे में 14 घंटे में इसकी चेन टूट जाएगी जिससे कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा कम हो जाएगा। हालांकि, विशेषज्ञ इस तरह का कोई दावा नहीं कर रहे हैं।
  • दूसरा यह कि 22 मार्च को आने वाले कठिन दिनों की तैयारी कर ली जाए। देख लिया जाए कि जनता कर्फ्यू की ये मुहिम कितना जोर पकड़ती है और लोगों का इसे कितना समर्थन मिलता है, इसका कितना असर पड़ता है।

दोनों ही स्थितियों में ये बात साफ है कि कोरोना वायरस से सतर्कता बेहद जरूरी है। जनता कर्फ्यू देशवासियों को आने वाली चुनौती के लिए मजबूत करेगा और बताएगा कि हम इसके लिए कितने तैयार हैं।

कोरोना वायरस (COVID-19) को लेकर देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का देशवासियों को सम्बोधन – जरूर सुने ओर शेयर करें –

Corona Virus (COVID-19) से कैसे बचें –

कोरोना वायरस एक काफी गम्भीर समस्या है। ना सिर्फ भारत, बल्कि पूरे विश्व के लिए। इससे बच पाना ओर इससे लड़ना काफी चुनौतीपूर्ण है। इससे बचने का एकमात्र उपाय है अपने खुद की सुरक्षा, सचेतता ओर जागरूकता।

कोरोना महामारी की गम्भीरता को समझिए। इस महामारी ने पिछले कुछ हफ़्तों में बड़ी तेज़ी से पूरी दुनिया को अपनी गिरफ़्त में लिया है चीन ,फ्रांस,स्पेन और दूसरे कई देशों ने जो ग़लतियां की हैं, हमें उससे सबक़ सीखना चाहिए।

अच्छी बात ये है कि कोरोना की मारक क्षमता बहुत ज़्यादा नहीं है और इससे बचाव भी बहुत आसान है। अगर आप अपने आप को इससे बचाने के लिए तैयार हैं और इससे बचने के लिए हर सम्भव तैयार हैं तो आपको यहाँ हम कुछ तरीके बता रहे हैं, जिनको अपनाकर आप कोरोना को फैलने से रोक सकते हैं और इससे बच सकते हैं, जो निम्न प्रकार हैं –

  1. घर के सभी सदस्य अगले दो हफ़्ते घर से बाहर निकलना बंद कर दें। संभव हो तो मज़दूरी या आफिस के लिए भी ना जायें।
  2. एक ही आंगन में कई परिवार रहते हैं,तो भी आपस में दूरी बनाकर रखी जाए,ख़ासकर बच्चों को एक दूसरे से जहां संभव हो दूर रखा जाए।
  3. घर से बाहर बहुत ज़रूरी हो तभी निकला जाए
  4. घर से बाहर ये ध्यान ज़रूर रहे कि नाक और मुंह अच्छे से ढके हों,बिना ज़रूरत किसी चीज़ को ना छुएं ना किसी से हाथ मिलायें।
  5. किसी भी परिचित या अजनबी से कम से कम दो मीटर के दूरी से बात करें। दुकानदार भी ग्राहकों से इतनी ही दूरी बनाकर रहें।
  6. अगर आपको खांसी या छींक आ जाए तो मुंह को कोहनी से ढक लें।
  7. घर में प्रवेश के बाद सबसे पहले साबुन से हाथ ज़रूर धोयें। और जहां तक संभव हो घर के लोगों से दो मीटर दूरी बना कर रखें ,चाहे आपको ज़ुकाम-खांसी के लक्षण न हो।
  8. घर से बाहर अतिआवश्यक होने परआवाजाही सिर्फ़ एक ही सदस्य करे।(हर कोई बारी बारी से बाहर ना जाए)और वो घर लौटने पर जहां तक संभव हो घर के लोगों से दूरी बना कर रखें ,चाहे आपको ज़ुकाम-खांसी के लक्षण न हो।
  9. घर के किसी सदस्य को ज़ुकाम/खांसी/गला-ख़राब/नज़ला आदि हो तो उसके पास घर के बाक़ी लोग ना जाएं,वो हर वक़्त अपना मुंह-नाक ढक कर रखे,जो भी सदस्य उसकी देखभाल कर रहा हो वो जब तक उसके पास रहे अपना भी नाक-मुंह ढक कर रखें और बार बार अपने हाथ धोये।
  10. स्तनपान कराने वाली मां अगर ज़ुकाम-ख़ांसी की शिकार हो जाए तो अपने बच्चे को दूध पिलाना ज़ारी रख सकती है बशर्ते की पहले हाथों को अच्छी तरह धो लें और नाक-मुंह ढक ले।
  11. स्वस्थ लगने वाले व्यक्ति से भी कोरोना इंफेक्शन हो सकता है,
  12. तावीज़, टोना-टोटका, या किसी चमत्कारी पैथी से सावधान रहें।
  13. जिनके लिए कोरोना जानलेवा साबित हो सकता है (जैसे बुजुर्ग, कमज़ोर बच्चे, गर्भवती महिलाएं, बीपी-शुगर-हार्ट के मरीज़, गुर्दे की बीमारी ,केंसर के मरीज़ आदि)उनकी विशेष देखभाल की जाए तथा उनके कमरों में घर के सदस्यों की आवाजाही भी बहुत ही सीमित होनी चाहिए।
  14. शादी-विवाह ,पारीवारिक आयोजन-उत्सव,बैठक, मीटिंग्स,जागरण,जिम, यात्राएं,पिकनिक आदि सभी तरह के आयोजन तुरन्त स्थगित कर दें। अपने घरों में ही नमाज़ें और पूजा करें।
  15. कम से कम 1 मीटर (3 फीट) की दूरी पर अपने आप को और किसी को भी, जो खांस रहा है या छींक रहा है, के बीच दूरी बनाए रखें।
  16. कोरोना वायरस के बारे में नवीनतम घटनाओं से अवगत रहें। अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता, अपने राष्ट्रीय और स्थानीय सार्वजनिक स्वास्थ्य प्राधिकरण को कोरोना वायरस से कैसे और कैसे बचाएं, इस पर दी गई सलाह का पालन करें।

Corona Virus (कोरोना वायरस) से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें –

  • कोरोना वायरस एक श्वास संबंधी बीमारी है और किसी संक्रमित व्यक्ति की छींक, खांसी, थूक से हवा के जरिए दूसरे लोगों तक पहुंचती है।
  • किसी भी चीज की सतह पर कोरोना वायरस कितनी देर टिका रहेगा ये उस जगह के तापमान और आर्द्रता पर निर्भर करता है।
  • विशेषज्ञों के मुताबिक, सार्स जैसा वायरस किसी सतह पर कई दिनों तक रह सकता है। लेकिन कोरोना वायरस किसी सतह पर कुछ घंटे से लेकर कुछ दिनों तक रह सकता है।
  • 20 डिग्री तापमान में स्टील की परत पर कोरोना वायरस दो दिनों तक टिका रहता है। बस या मेट्रो में दरवाजे, हैंडल और पिलर स्टील के ही बने होते हैं।
  • 20 डिग्री तापमान में शीशे या लकड़ी की सतह पर कोरोना वायरस चार दिन तक सक्रिय रह सकता है।
  • 20 डिग्री तापमान पर ही ठोस धातु, प्लास्टिक या मिट्टी के बर्तनों की सतह पर कोरोना वायरस करीब पांच दिन तक जिंदा रह सकता है।
  • इसके अलावा रबर की सतह पर कोरोना वायरस करीब 8 घंटे तक जिंदा रह सकता है।
  • अगर किसी सतह पर वायरस मौजूद है तो उसके जरिए ये वायरस किसी व्यक्ति में फैल सकता है।
  • मोबाइल फोन में शीशा, प्लास्टिक और एल्युमिनियम होता है इसलिए इससे भी संक्रमण का खतरा है।

COVID-19 (Corona Virus) हेल्पलाइन नंबर –

भारत सरकार ने कोरोना वायरस की मामलों की जानकारी देने के लिए अलग से हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं, जो राज्यानुसार अलग अलग है। नीचे फ़ोटो में हम कोरोना बीमारी से सम्बंधित हेल्पलाइन नंबर की एक लिस्ट दे रहे हैं, देखें –

Corona Virus Helpline Number

केंद्र सरकार ने भी अपनी ओर से एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। वह है, 011-23978046

तो, अगर आपके आसपास कोई भी कोरोना का मरीज या संदिग्ध पाया जाता है तो आप अपने राज्य में दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके सूचित कर सकते हैं।

Best Face Masks For Corona Virus Protection (Buy Now)

कोरोना से सुरक्षा ही इससे बचाव है। आप जितना ज्यादा सजग और जागरूक रहेंगे आपको उतना ही ज्यादा इससे बचने का फायदा होगा। इससे बचने व इसको ओर ज्यादा फैलने से रोकने का सबसे अच्छा रास्ता Face masks हैं। आप जब भी घर से बाहर निकलें, अपने चेहरे पर Face mask (मास्क) लगाकर ही बाहर निकलें।

तो अगर आप अपने व अपने परिवार के लिए कुछ अच्छे कोरोना वायरस प्रोटेक्शन फेस मास्क खरीदना चाहते हैं तो हम यहाँ आपको कुछ अच्छे face masks बता रहे हैं, जिनको आप खरीदकर खुद को ओर अपने परिवार को कोरोना से बचने में मदद कर सकते हैं। इनको जरूर खरीदें –

1 – Lioncrown Skin Friendly Face Mask For Protection Against Pollution/Bacteria/Dust – BUY NOW

2 – Party-Hut V-410-V Reusable Anti Air Pollution Face Mask 2 Bag Filters – BUY NOW

3 – MR Healthy Life Pollution Mask for Men and Women – BUY NOW

4 – 3M 9004GV Anti-pollution Mask with easy exhalation valve, Grey, Pack of 1 – BUY NOW

5 – FRIENDSKART comfort Disposable Pollution Elastic Mask Disposable 3 Ply Face Mask with Earloop Great for Air Pollution Virus Protection & Personal Health Face Mask – BUY NOW

तो दोस्तों, ये थी कोरोना बीमारी को लेकर हमारी आज की यह पोस्ट, जिसमे हमने आपको corona को लेकर सारी महत्वपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की है और आपको इसको लेकर जागरूक किया है। अब आप अपनी खुद की समझ और जागरूकता से इस बीमारी या वायरस से बच सकते हैं और अपने परिवार व अपने राज्य और देश को इससे सुरक्षित रख सकते हैं।

कभी भी ये मत सोचना की ये कोई गम्भीर विषय नहीं है। यह वायरस काफी गम्भीर है और एक बहुत बड़ी महामारी हैं। अतः इससे जितना सम्भव हो सके बचने की कोशिस करें और ऊपर बताये गए उपायों को अपनाएं। सिर्फ इतना ही नहीं, बल्कि 22 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की इससे बचने की पहल जनता कर्फ्यू का पालन करें और देश को कोरोना मुक्त करने में केंद्र व राज्य सरकार की मदद करें। आपकी अपनी सुरक्षा, सचेतता, सजगता व जागरूकता ही इससे बचने का उपाय है। इससे घबराएं नहीं, बल्कि इसका डटकर सामना करें।

उम्मीद करता हूँ कि Corona को लेकर हमारी यह खाश पोस्ट आपको जरूर पसंद आई होगी व आपको इस लाइलाज वायरस COVID-19 के बारे में सारी जरूरी जानकारी मिल गयी होगी। में आपसे निवेदन करता हूँ कि इस पोस्ट को नीचे दिए गए Share Buttons पर क्लिक करके अपने परिजनों और दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करे, ताकि उनको भो इसके बारे में उचित जानकारी मिल सके और समय रहते जागरूक हो सकें। मेरे साथ जुड़े रहने व पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद। जय हिंद, वन्दे मातरम..!

6 COMMENTS

  1. Sir आप के द्वारा लिखा गया पोस्ट और बताई गयी बातें बहुत सराहनिये है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here